शनिवार, 4 जुलाई 2015

करें कंबाइड हायर सेकेंडरी लेवल एग्जामिनेशन 2०15 की तैयारी


कर्मचारी चयन आयोग केंद्रीय संस्थानों में ग्रुप सी कैटेगरी के कर्मचारियों की भर्ती करता है। कंबाइड हायर सेकेंडरी लेवल एग्जामिनेशन 2०15 के लिए असिस्टेंट, डाटा एंट्री ऑपरेटर व एलडीसी के 6578 पदों पर भर्ती की अधिसूचना जारी की गई है। सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं तो यह बिल्कुल सही समय है। इन पदों के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख 13 जुलाई है। एलिजिबिलिटी, एग्जाम पैटर्न और प्रिपरेशन की सही जानकारी इस नौकरी को हासिल करने में मदद करेगी।
—————————————————————————————————


कर्मचारी चयन आयोग देशभर में केंद्रीय कर्मचारियों की भर्ती करता है। कंबाइड हायर सेकेंडरी लेवल एग्जामिनेशन 2०15 के जरिए ग्रुप सी के पद पर ज्वाइन करने के बाद आप विभागीय परीक्षा देकर गजेटेड ऑफिसर की पोस्ट तक भी पहुंच सकते हैं। अपने मनपसंद विभाग में ऊंचे ओहदे पर काम करने का सपना साकार करने का यह शॉर्टकट तरीका है। बस आप में ध्ौर्य और सही रणनीति को फॉलो करने की समझदारी होनी चाहिए, फिर कामयाबी आपके हाथ में होगी।

एलिजिबिलिटी
1 अगस्त, 2०15 से पहले आपके पास 12वीं या इसके समकक्ष कोई योग्यता होनी चाहिए। आवेदन करने की आयु 18 से 27 वर्ष के बीच होनी चाहिए। अनुसूचित जाति/ जनजाति/ पिछड़ा वर्ग और अन्य आरक्षित वर्गों को नियम के अनुसार अधिकतम आयु में छूट दी जाएगी।

एग्जाम पैटर्न
डाटा एंट्री ऑपरेटर के पद के लिए रिटेन टेस्ट और स्किल टेस्ट लिया जाएगा। वहीं पोस्टल असिस्टेंट, शॉर्टिंग असिस्टेंट और लोवर डिविजन क्लर्क के लिए रिटेन टेस्ट और इसके बाद कंप्यूटर पर टाइपिंग टेस्ट लिया जाएगा। रिटेन एग्जाम दो घंटे का ऑब्जेक्टिव टाइप का होगा। इसमें 2०० प्रश्न पूछे जाएंगे। क्यूश्चन पेपर चार सेक्शन में डिवाइड है। फस्र्ट सेक्शन में 5० क्यूश्चन जनरल इंटेलिजेंसी से, सेकेंड सेक्शन से इंग्लिश लैंग्वेज के 5० क्यूश्चन, थर्ड सेक्शन से गणित की झमता आंकने के लिए क्वांटिटिव एप्टिट्यूड से 5० क्यूश्चन और फोर्थ सेक्शन से जनरल अवरनेंस से 5० क्यूश्चन पूछे जाएंगे।
निगेटिव मार्किंग
रिटेन एग्जाम में निगेटिव मार्किंग की जाएगी, हर गलत क्यूश्चन के लिए एक चौथाई अंक काटे जाएंगे। इसलिए प्रश्नों को हल करते समय सावधानी बरतें और जिन प्रश्नों का उत्तर सही मालूम हो उसका ही उत्तर दें, तुक्का लगाकर दिया उत्तर अगर गलत हुए तो निगेटिव मार्किंग के कारण मार्क्स कट जाएंगे।

एग्जाम प्रिपरेशन
नवंबर महीने में रिटेन एग्जाम है। इस समय सिलेबस के अनुसार तैयारी शुरू कर दें।
जनरल इंटेलिजेंसी: इसमें रिजनिंग के क्यूश्चन पूछे जाएंगे, जिसमें वर्बल और नानवर्बल टाइप के क्यूश्चन होंगे। चित्र, कोड-डिकोड, तर्क कथन, वर्ड बिल्डिंग, नंबर पैटर्न आदि से सवाल पूछे जाते हैं। अगर आप पहली बार इस परीक्षा में शामिल हो रहे हैं तो पूरी जानकारी प्राप्त कर लें। इस तरह के पहले पूछ गए प्रश्नों का मॉक टेस्ट लें। इसके बाद कोई अच्छी बुक से रिजनिंग के बनने वाले क्यूश्चन को साल्व करने की शार्टकट मेथड सीखें। बार-बार प्रैक्टिस से आपको ये मेथ्ड याद हो जाएंगे और इसके साथ ही खुद का मेथड भी रिजनिंग के सवालों को हल करने के लिए डेवलप हो जाएगा।
अंग्रेजी लैंग्वेज: इस सेक्शन की तैयारी का सबसे अच्छा तरीका है। अंग्रेजी की वोकेबुलरी को अच्छी तरह लर्न कर लें। कारण यह है कि एसएससी के एग्जाम में सिनोनिम्स, होमोनिम्स, एंटानिम्स, स्पेलिंग, मिस-स्पेल वर्ड से आध्ो से ज्यादा क्यूश्चन पूछे जाते हैं। अंग्रेजी वोकेबुलरी पर ध्यान देंगे तो ये सब टॉपिक भी आसानी से कवर होंगे। इसके अलावा हाईस्कूल लेवल की अंग्रेजी ग्रामर की बुक पढ़ें। जितना क्यूश्चन सेट साल्व करने की प्रैक्टिस करेंगे, उतना ही आपका ग्रामर के नियमों पर पकड़ मजबूत बनेगी।
क्वांटिटिव एप्टिटñूड: नंबर बटोरने के लिहाज से यह सेक्शन बहुत मददगार हो सकता है। अगर आप मैथ के नियमों को जानते हैं और क्यूश्चन साल्व करने का सही अप्रोच डेवलप कर ले तो इस सेक्शन में 5० के 5० क्यूश्चन को कम समय में सही-सही साल्व कर लेंगे। यहां से बचा समय अंग्रेजी सेक्शन में लगाकर इस सेक्शन में भी अच्छे नंबर ला सकते हैं। अगर आपकी गणित कमजोर है तो बेसिक से शुरुआत करें। सिलेबस के अनुसार आप आठवीं की बुक से प्रैक्टिस करें, इसके बाद 1०वीं के स्तर की गणित की बुक से पढ़ाई करें। नंबर सिस्टम के सवालों को हल करने के लिए डेसिमल, फै्रक्शन, प्राइम नंबर, इवेन-ऑड नंबर के नियमों को आठवीं की किताब से समझ लेना जरूरी है। एलजेब्रा, ग्रॉफ, लाइनियर इक्यूशन आदि को टàेडिशनल तरीके से सॉल्व करने का तरीका जानें, इसके बाद इस तरह के सवालों को हल करने का शॉर्ट तरीका अप्लाई करें। ध्यान रखें कि सिंपल इंटàेस्ट और कंपाउंड इंटàेस्ट के सवालों को हल करने का शार्टकट मेथड तभी समझ में आएगा, जब डिस्के्रप्टिव मेथड को ध्यान से समझ चुके होंगे। कहने का मतलब है कि मैथ के हर टॉपिक में शार्टकट तरीका अपनाने से पहले उस टॉपिक के सवाल को डिस्क्रेप्टिव तरीके से साल्व करने का तरीका जानना जरूरी है।
जनरल अवरनेंस: इस सेक्शन में देश-विदेश में घटने वाली राजनैतिक, आर्थिक, सामाजिक घटनाओं पर बनने वाले क्यूश्चन होंगे। पुरस्कार-सम्मान, बुक रिलीज, वैज्ञानिक खोज, भारतीय इतिहास, कला-संस्कृति, अर्थशास्त्र, भुगोल, साइंसटिफिक रिसर्च, भारत के पड़ोसी देश से रिलेटेड क्यूश्चन पूछे जाते हैं। इस सेक्शन का टॉपिक बहुत बड़ा है लेकिन एजुकेटेड पर्सन के अपेक्षा के अनुरूप अपने को अप-टू-डेट रखना होगा। इसके लिए न्यूज पेपर, न्यूज पोर्टल को रोजाना पढ़ते रहें। हाईस्कूल स्तर की सामाजिक विज्ञान बुक की स्टडी कारगर साबित होगी।
स्किल टेस्ट
रिटेन टेस्ट की मेरिट में आने के बाद डाटा एंट्री ऑपरेटर के पोस्ट पर अप्लाई करने वाले कैंडिडेट्स का कंप्यूटर पर डॉटा एंटàी स्पीड 8०० की फीडिंग एक घंटे में करनी होगी। पोस्टल असिस्टेंट, शॉर्टिंग असिस्टेंट और एलडीसी के पद के लिए कंप्यूटर पर टाइपिंग टेस्ट लिया जाएगा। अंग्रेजी के लिए टाइपिंग स्पीड 35 और हिंदी में टाइपिंग स्पीड 3० शब्द प्रति मिनट कम से कम होनी चाहिए। ये स्किल टेस्ट क्वॉलिफाइंग होगा।

महत्वपूर्ण बिंदु
कुल पद: 6578
1. पोस्टल असिस्टेंट/ सोîटग असिस्टेंट : 3523 पोस्ट
2. डाटा एंट्री ऑपरेटर: 2०49 पोस्ट
3. लोअर डिविजनल क्लर्क : 1००6 पोस्ट
वेतनमान:
चयनित उम्मीदवारों को रुपये 52००-2०2०० व ग्रेड पे रुपये क्रमश: रुपये 19०० और 24०० के अनुसार वेतन दिया जाएगा।
कैसे आवेदन करें
इन पदों पर आवेदन करने के लिए आयोग की वेबसाइट
ऑनलाइन आवेदन 13 जुलाई से पहले कर सकते हैं।
रिटेन टेस्ट डेट
1, 15, 22 नवंबर को अलग-अलग बैच में आयोजित की जाएगी।